मेथी की भाजी गोश्त ऐसे बनाये की पुरे घर में खुशबु आने लगे – इंडियन पकवान

ठंडी के मौसम में मेथी की भाजी गोश्त ग्रामीण इलाके की पसंद की रेसिपी है। मेथी की भाजी में गोश्त के इस्तेमाल से इसका स्वाद सभी का मन को भाता है। यह रेसिपी बहुत ही कम मसालों में बनाई जाती है और साथ ही मेथी की भाजी बनाने में समय कम लगता है।

वैसे मेथी खाने के कई फायदे हैं। कुछ लोग मेथी की कड़वाहट से मेथी की सब्जी नहीं खाते लेकिन आज हम जिस तरीके से मेथी की भाजी और गोश्त की सब्जी बना बना रहे हैं, यकीन मानिए यह सब्जी बिल्कुल भी कड़वी नहीं बनेगी। जब आप इस मेथी की भाजी गोश्त बनाने का तरीका जान लोगे और इस तरीके से बनाओगे तो आपको और आपके घर वालों को बहुत ही पसंद आएंगी। इस भाजी को खाते खाते पेट भरेगा नियत नहीं, आप इस विधि को फॉलो करके बहुत ही बढ़िया और स्वादिष्ट मेथी की भाजी बना सकते हैं।

तो चलिए जान लेते हैं कि क्या है “मेथी की भाजी और गोश्त बनाने की विधि” इस विधि से भाजी बनाना बहुत ही आसान है और इसकी खुशबू पूरे घर में आने लगेंगी।


 

मेथी की भाजी गोश्त बनाने की सामग्री

मेथी की भाजी 500 ग्राम

टमाटर 4 बड़े साइज के

चिकनाई वाला गोश्त 500 ग्राम

तेल-2 बड़े चम्मच

हरी मिर्च का ठेसा एक चम्मच

हरा धनिया दो बड़े चम्मच

लाल मिर्च पाउडर एक चम्मच

लहसुन अदरक का पेस्ट – 1 चम्मच

नमक स्वाद के अनुसार

मेथी की भाजी और गोश्त बनाने की विधि

– स्वादिष्ट सब्जी बनाने के लिए सबसे पहले मेथी की भाजी को तोड़ ले और फिर दो बार पानी से धोकर छलनी में छानकर पूरा पानी निथारले। अब टमाटर को अलग प्लेट में टुकड़ों में काट लें। गोश को कुकर में एक गिलास पानी, नमक डालकर 3 सीटी आने तक उबाले।

– अब कढ़ाई में तेल डालकर मध्यम आंच पर गर्म करें। जब तेल गरम हो जाए तब अदरक लहसुन का पेस्ट डालें और 1 मिनट तक भूनें। अब हरी मिर्च का ठेसा डाले और 1 मिनट इसे भी भूनें। अब अदरक लहसुन का पेस्ट और मिर्च का ठेसा भून चुका है तब कटे हुए टमाटर डाले और चम्मच से अच्छे से चलाते हुए टमाटर को पूरी तरह घुलने तक पकाएं। इसमें दो 3 मिनट का समय लग सकता है। (स्वादिष्ट मेथी के पराठे कैसे बनाएं) .


– अब इसमें लाल मिर्च पाउडर और उबला हुआ गोश्त डालें और चम्मच से चलाते हुए दो-तीन मिनट तक पकाएं (सिर्फ गोश्त ही डालें और एक या दो चम्मच उबले हुए गोश का शीरा डालें, इससे ज्यादा शीरा नहीं डालना है क्योंकि भाजी अपना पानी छोड़ती है और हम को ” सुखी सुखी मेथी की भाजी ” बनाने वाले है। ( तुवर की फल्ली की आमटी जिसे खाकर आपके होश उड़ जायेगे .

– तय समय बाद मेथी की भाजी मिलाएं और चम्मच से 1 मिनट नीचे ऊपर करते हुए पकाएं। जब भाजी अपना पानी छोड़ दे तब स्वाद के अनुसार नमक मिलाएं और चम्मच से मिला दे। 5 – 7 मिनट बाद भाजी का पानी सूखने लगेगा तब चम्मच से नीचे ऊपर करते हुए पकाएं। अब भाजी का पूरा पानी सूख चुका है और मेथी की भाजी की सोंधी खुशबू आने लगी है, तब भाजी को नीचे उतार ले।

– मेथी की भाजी तैयार है परोसने के लिए। मेथी की भाजी गोश्त को रोटी या तेल के पराठे के साथ गरमा-गरम खाए और अपने परिवार वालों को भी खिलाएं। यह भाजी सभी को पसंद आएंगे और सभी का दिल जीत लेंगी।


 

सुझाव

मेथी की भाजी में लाल मिर्च पाउडर थोड़ा कम ही डालें। क्योंकि हमने हरी मिर्च का ठेसा भी मिलाया है। हरी मिर्च के ठेसे से भाजी की खुशबू और स्वाद दोनों ही अच्छा आता है।

जब तक टमाटर पूरी तरह चटनी जैसी नहीं हो जाती तब तक गोश्त ना मिलाये। ऐसा करने से भाजी खाते वक्त टमाटर मुंह में नहीं आएंगे और टमाटर का स्वाद भाजी में मिल जाएगा, इस ट्रिक का खास ध्यान रखें कि टमाटर पूरी तरह गए हो, मतलब मैश हो चुके हो।

भाजी में गोश्त मिलाते समय गोश्त का उबला हुआ पानी ज्यादा नहीं मिलाना है। क्योंकि भाजी भी अपना पानी छोड़ती है फिर भाजी का पानी सूखने में काफी ज्यादा समय लग जाएगा इसलिए गोश्त का शीरा एक दो चम्मच ही मिलाएं।

मेथी के भाजी  में का पूरा पानी सूखने तक पकाएं, ऐसी सूखी भाजी की खुशबू और स्वाद अच्छा आता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *