ये है मोतीचूर के लड्डू बनाने का तरीका-Motichoor Ke Laddu In Hindi

मिठाई खाने की हर कोई शौकीन होते हैं और किसी खास मौके पर मिठाई या लड्डू खाने का मौका ढूंढते रहते हैं। इंडिया में त्यौहार पर कई किस्म की मिठाई बनाई जाती है और शौक से खाया जाता है। लेकिन कुछ त्यौहारों में मोतीचूर के लड्डू फेमस मिठाई है। यह लड्डू हलवाई की दुकान की शान भी मानी जाती है और देखने में बेहद ही खूबसूरत लगते हैं।

अब आपको लड्डू हलवाई की दुकान से खरीद लाने की जरूरत नहीं क्योंकि हम घर पर मोतीचूर के लड्डू बनाने का तरीका बता रहे हैं। जो बिल्कुल स्वाद में हलवाई वाले मोतीचूर के लड्डू की तरह बनेंगे। जब भी किसी का मुंह मीठा करना हो या त्योहार पर मिठाई बनाने की सोची हो तो इस लड्डू रेसिपी को जरूर बनाएं।




इंडिया में मोतीचूर के लड्डू रेसिपी को बूंदी के लड्डू भी कहा जाता है। तो चलिए जान लेते हैं इंडियन लड्डू को बनाने का तरीका ।

आवश्यक सामग्री

बेसन – 250 ग्राम
चीनी 1 कटोरी
घी – 500 ग्राम
इलायची पाउडर 1 छोटा चम्मच
संतरी कलर – 1 चम्मच

विधि

सबसे पहले एक कटोरे में बेसन ले, अब इसमें थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर घोल बना ले (घोल ना ज्यादा पतला या ना ही ज्यादा गाढ़ा हो, इतना पतला बनाए की छलनी पर डालते ही पास हो जाए). घोल तैयार हो जाए तब कढ़ाई में घी या तेल डालकर गर्म होने रखें।




अब गरम घी में छलनी पर गोल डालकर मोतीचूर (बूंदी) तैयार कर लें। इसे एक 2 मिनट मध्यम आंच पर तले फिर छलनी से निकाल कर प्लेट में रख दें। अब चाशनी तैयार करने के लिए पैन में चीनी और पानी डालकर उबाल आने तक पकाएं। (काजू कतली बनाने का ये है आसान तरीका)

जब एक उबाल आ जाए और चीनी घुल जाए तब संतरी कलर और इलायची पाउडर डालकर गाढ़ी चाशनी बनने तक पकाएं। जब गाढ़ी चाशनी तैयार हो जाए तब बूंदी को चाशनी में डालकर दो-तीन मिनट तक पकाएं।

जब बूंदी चाशनी को सोख लें तब गैस बंद करदे फिर आधा घंटे के लिए इसे ठंडा होने बाजू में रख दें ताकि बूंदी और चाशनी पूरी तरह मिल जाए। अब आधे घंटे बाद अपने हाथों पर पानी लगाकर नींबू जितने लड्डू तैयार कर ले और प्लेट में रखते जाए। (रसगुल्ला इन हिंदी)

सभी लड्डू तैयार होने पर एक घंटा अलग रख दें। अब मोतीचूर के लड्डू सर्व करने के लिए तैयार है, इसे 1-2 हफ्ते तक खा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.