भजिया (Bhajiya) बनाने का तरीका – Bhajiya Recipe In Hindi

तला हुआ चटपटा खाने के तो बहुत शौकीन होते हैं और जिन्हें तला हुआ खाना पसंद है, वह भजिया के स्वाद से भलीभांति वाकिफ है। भजिया (Bhajiya) यह बेसन से बनाई जाने वाली रेसिपी है और खाने में बहुत ही स्वादिष्ट और चटपटे होते हैं। खास तौर पर यह भारत की स्ट्रीट फूड (Street food of india) है और महाराष्ट्र राज्य में गांव और शहरों में होटल पर बनते दिखाई देते हैं।

 

भजिए (Bhajiye) को बरसात के टिप टिप वाली बारिश के समय खाए तो बहुत ही मजा इस समय आता है। आज हम भजिया बनाने का तरीका Bhajiya recipe in hindi में बता रहे हैं। इसे शायद आप भी खाते होंगे, हम याद दिलाते हैं जब आप कड़ी-भजिया बनाते हैं।




जब भी आपका मन इसे खाने का करें या फिर आप छाछ वाली कढ़ी बनाए तब इसे बना सकते हैं। इसे बनाना बहुत आसान है और हम बहुत ही सिंपल तरीके से स्वादिष्ट और फुले – फुले बेसन के भजिए बनाने वाले हैं। तो चलिए बनाने में सामग्री और विधि पता करते हैं, आप ध्यान से इसे पढ़े।

 

भजिया बनाने की आवश्यक सामग्री

 

बेसन – 200 ग्राम
हल्दी पाउडर 1 छोटी चम्मच
जीरा – 1 चम्मच
1 प्याज़ (बारीक कटी हुई)
हरी मिर्च – 4 (कटी हुई)
स्वादानुसार नमक
खाने का सोडा 1 चुटकी
तेल – 500 ग्राम तलने के लिए

 

विधि

 

1. सबसे पहले एक कटोरे में बेसन छान कर डाले। फिर इसमें हल्दी, प्याज़, सोडा, नमक, हरी मिर्च, जीरा डालकर मिला लें। अब इसमें आवश्यकतानुसार पानी डालकर बेसन का गाढ़ा घोल बनाएं, जब बेसन का घोल बन जाए तब इस मिश्रण को 20 मिनट के लिए बाजू में रख दें ताकि मिश्रण फुल सके। (मूंग के पकोड़े बनाने का तरीका)

 

2. अब मिश्रण फूल जाए तब कढ़ाई में तेल डालकर गर्म होने रखें। जब तेल गरम हो जाए तब हाथों की उंगलियों को पानी में डुबोकर गिली करें। फिर हाथ में बेसन वाला मिश्रण लेकर उंगलियों को हिलाते हुए तेल में डालें। अब इसे कलछी से हिलाते हुए थोड़ा सा कलर बदलने तक तले। जब कलर हल्का लाल रंग आ जाए तब कलछी से इसे बाहर निकाल कर प्लेट में रखे।



3. बेसन वाला भजिया बन चुका है। इसे गरमा – गरम हरी मिर्च वाला ठेसा या फिर अपनी कोई भी मनपसंद चटनी जैसे, इमली की चटनी या टमाटर सॉस के साथ खा सकते हैं। (होटल वाले रस्सा कैसे बनाते है)

 

सुझाव

 

बेसन का घोल ज्यादा पतला या ज्यादा सख्त ना करें। इसकी क्वांटिटी मीडियम ही रखें वरना, आप का घोल ज्यादा सख्त होगा तो सही तरीके से नहीं फूल पाएंगे और ज्यादा पतला वाले घोल के भजिए ज्यादा क्रिस्पी बनेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *