नानखटाई बनाने की विधि – Nankhatai Recipe In Hindi

खुसखुसे बिस्कुट खाना किसे पसंद नहीं होता, जिसे बिस्कुट पसंद हो उसे नानखटाई बहुत पसंद आती है। आज हम सभी की पसंदीदा नानखटाई बनाने की विधि बता रहे हैं। यदि आपको लगता है कि इसे बनाना बहुत मुश्किल है तो आप गलत सोच रहे हैं। हमारे बताए गए तरीके से बहुत ही आसानी से इसे आप बना पाएंगे।

पहले के समय में जब ओवन नहीं हुआ करता था तब इसे जलते हुए कोयले के भाप में बनाते थे, लेकिन अब ओवन आने से काफी लोग ओवन में बनाना पसंद करते हैं। लेकिन हम नाही ओवन और नाही कोयले का इस्तेमाल करेंगे। आज हम Nankhatai Recipe In Hindi – नानखटाई रेसिपी इन हिंदी को बनाने के लिए मोटा नमक का इस्तेमाल करेंगे।

तो चलिए देर न करते हुए नानखटाई (Nankhatai) रेसिपी बनाना शुरू करते हैं। आप इसे स्टेप बाय स्टेप ध्यान से पढ़ें तभी आप सही तरीके से खुसखुसी नान खटाई बना पाएंगे।

आवश्यक सामग्री

मैदा 250 ग्राम
रवा – 100 ग्राम
बेसन 100 ग्राम
देसी घी दो कटोरी
चीनी पाउडर 1 कटोरी
इलायची पाउडर 1 छोटी चम्मच
सोडा 1 छोटा चम्मच
नमक 1 छोटा चम्मच
मोटा नमक 2 बड़ी कटोरी (पकाने के लिए)

नानखटाई बनाने की विधि

सबसे पहली चीनी को पीसकर पाउडर बना लें। अब एक कटोरी में मैदा, बेसन और रवा को मिक्स करके अलग रख दें। अब देसी घी को गर्म करके पिघाले फिर इस घी में चीनी पाउडर डालकर चम्मच से अच्छी तरह घोले। जब चीनी और घी मिल जाए तब इसमें थोड़ा सा मैदा वाला मिश्रण और सोडा, नमक, इलायची पाउडर डालकर चम्मच से मिला ले।

अब और थोड़ा-थोड़ा करते हुए मैदा वाला मिश्रण में डालकर मिला लें। यदि बेटर सख्त हो तो थोड़ा सा दूध डालकर कड़क डोह तैयार कर ले। नानखटाई बनाने के लिए डोह हमें सख्त ही चाहिए। जब सख्त डोह बनकर तैयार हो जाए तब बड़े नींबू जितना पेड़ा हाथ पर ले कर हथेली पर नान खटाई के आकार में बनाले।

ठीक इसी तरह सभी पढ़े बनाकर बाजू में रख दें। अब इन पढ़े को एक स्टील के प्लेट के ऊपर जमा दे। अब एक कड़ाही में मोटा नमक डालकर तेज़ आंच पर गर्म होने रखें। जब नमक गरम हो जाए तब प्लेट को गरम नमक पर सावधानी से रखें। अब कढ़ाई पर ढक्कन ढक दे और 20-25 मिनट तक पकने दें। (बालूशाही बनाने की विधि)

तय समय बाद ढक्कन हटाए और देखें यदि नान खटाई का कलर सुनहरा हो चुका हो तो गैस बंद कर दे और प्लेट को सावधानी से बाहर निकालें। नानखटाई (Nankhatai) बनकर तैयार हो चुकी है खाने के लिए। अभी यह नरम होंगी लेकिन ठंडी होने के बाद यह खुसखुसी होगी और इसे डिब्बे में रखकर 15-20 दिनों तक खा सकते हैं। (घर पर देसी घी कैसे बनाये)

सुझाव

आप इसे सुन्दर दिखाने के लिए पेढ़े के ऊपर थोडासा पिस्ता भी लगा सकते है।

हमने इसमें नमक थोड़ा नमकीन स्वाद के लिए मिलाया है, आप चाहे तो ना मिलाये लेकिन एक चम्मच नमक मिलाने से नानखटाई का स्वाद अच्छा होता है।

यदि आपको हमारी रेसिपी पसंद आई हो तो आप हमें सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमें फॉलो करने के लिए इस बटन पर क्लिक करके हमें फॉलो करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चौपाटी जैसी नमकीन चना चाट घर पर बना सकते है नाश्ते में बनाए आलू पोहा ऐसी मटर पनीर की सब्जी की सब शौक से खाएंगे बनाए सूजी के गुलाब जामुन सर्दियों का मज़ा ले गरमा गरम भजिये बनाकर