टमाटर का अचार बनाने की आसान विधि – Tamatar Ka Achar In Hindi

अचार चाहे जो भी हो लेकिन खाने का मजा जरूर आता है। टमाटर का अचार भी टेस्टी होता है लेकिन कुछ लोग इसके स्वाद से वंचित है क्योंकि उन्हें पता ही नहीं कि टमाटर का अचार भी बनाया जाता है। यदि आपने इस अचार को पहले कभी खाया है तो आप इसके स्वाद से भलीभांति वाकिफ होंगे।

आज हम टमाटर का अचार बनाने की विधि बता रहे हैं। इसे बनाना बहुत आसान है और 10-15 मिनट में यह अचार बनकर तैयार हो जाता है। इसका स्वाद खट्टा, मीठा और तीखा होता है। बच्चों को पराठे के साथ या टिफिन पर भी इसे बांध सकती है। यदि फ्रीज में साफ-सुथरी बर्नी में इसे रखा जाए तो कई महीनों तक खराब नहीं होगा।

तो चलिए देर ना करते हुए Tamatar ka achar in hindi में बनाना शुरू करते हैं। आप ध्यान से बनाने की विधि को पढ़ें और झटपट बनाकर 3-4 महीनों तक इस अचार का मजा ले। बनाने के लिए सामग्री नॉर्मल है जो किचन में मौजूद होती।

आवश्यक सामग्री

टमाटर 500 ग्राम
लहसुन की 10-12 कलियां
मेथी दाने 1 छोटी चम्मच
सौंफ 1 बड़ा चम्मच
जीरा 1 चम्मच
राई 1 बड़ा चम्मच
कलौंजी 1 छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर 1 चम्मच
चीनी 1 बड़ा चम्मच
लाल मिर्च पाउडर 1 बड़ा चम्मच
नमक 1 कटोरी
सरसों का तेल 300 ग्राम

विधि

टमाटर का अचार बनाने के लिए सबसे पहले टमाटर को पानी से धोले फिर मीडियम टुकड़ों में काट लें। अब एक पैन में तेल डालकर गर्म करें। तेल के गर्म होतेही जीरा, सौंफ, मेथी, राई और कलौंजी डालकर मध्यम आंच पर आधा मिनट भूनें। अब लहसुन डालकर 1 मिनट भुने।

अब कटे हुए टमाटर डालकर 2-3 मिनट चम्मच से मिलाते हुए पकाएं। जब टमाटर सॉफ्ट होने लगे तब हल्दी और मिर्च पाउडर डालकर मिला दें और तब तक मध्यम आंच पर पकाएं जब तक कि टमाटर पूरी तरह नरम नहीं हो जाते और किनारों से तेल ना दिखाई दे।

अब टमाटर अच्छी तरह नरम हो चुके हैं और तेल किनारों से दिखाई दे रहा है तब चीनी और नमक डालकर चम्मच से मिला दे और 2-3 मिनट पकने दें ताकि चीनी पूरी तरह घुल जाए। अब गैस बंद कर दे और कुछ देर ठंडा होने बाजू में रख दे। (सालो साल ख़राब नहीं होगा ये अचार)

कुछ देर बाद अचार ठंडा हो चुका है तब कांच की बरनी में डालें। अब सरसों का तेल को गर्म करें और फिर ठंडा होने के बाद अचार में डाल दे। तैयार हो चुका है टमाटर का अचार खाने के लिए। इसे फ्रीज में रखे और 3-4 महीनों तक इस्तेमाल करें। जब भी अचार को खाने के लिए निकालें तो चम्मच साफ-सुथरा और सूखा होना चाहिए। (गोभी का अचार बनाने की विधि)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *